Saturday, 29 April 2017

सुनो पाखण्डियों .....!!! सबसे पहले शोषण के लिए तुमने जातियाँ बनाई। खूब मलाई खायी ।

No comments:

Post a comment