Saturday, 29 February 2020

AAP पार्टी से पैदा हुए ज़हरीले सांप को BJP में फन फैलाने का मौका मिला -Social

अरविंद केजरीवाल की दिल्ली में लगे 15 लाख CCTV कैमरो में सिर्फ कैद हुआ कन्हैया कुमार, औऱ ताहिर हुसैन

आम आदमी पार्टी से पैदा हुए एक ज़हरीले सांप ( कपिल मिश्रा) को भाजपा में अपने फन फैलाने का मौका मिला जिसने पूरी दिल्ली को डस लिया, कम से कम भाजपा अपने नेता मंत्री के साथ खड़ी है लेकिन सारे सबूत होने के बावजूद आम आदमी पार्टी ने बदनामी के डर से अपने ही बेकसूर नेता ताहिर हुसैन को पार्टी से निकाल दिया
3 साल केजरीवाल ने अनुमति नही दी, और सरकार बनने के महज़ 15 दिन बाद कन्हैय्या पर देशद्रोह का मुकदमा चलाने की अनुमति दे दी, जिस कन्हैया के भाषण को केजरीवाल एक्सीलेंट कहते थे उसी पर राजद्रोह का केस चलाना, जामिया के मामले पर चुप्पी साधना, दिल्ली दंगो में फ्रंट पर न आना, ये ज़ाहिर करता है कि केजरीवाल दो नाव पर सवार है मैंने पहले भी कहा था कि केजरीवाल सॉफ्ट संघी हैं,
लिख के ले लीजिए, केजरीवाल की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है।
Via social media posted by - Kavish Aziz Lenin
 
एक समय में कपिल मिश्रा और ताहिर हुसैन अच्छे दोस्त हुआ करते थे. इतना ही नहीं, कपिल मिश्रा का दफ़्तर भी कभी ताहिर हुसैन के घर में हुआ करता था. फिर दोनों के सम्बन्ध इतने कैसे बिगड़ गए?

इस सवाल के जवाब में हुसैन ने कहा, "कपिल मिश्रा को हमने ही यहां से विधायक बनवाया था. मैं बिज़नसमैन आदमी हूं. हमने कपिल मिश्रा का पूरा साथ दिया था लेकिन उन्होंने यहां की जनता के साथ धोखा किया, हमारी पार्टी के साथ धोखा किया और आज उन्होंने सबसे बड़ा धोखा हमारे साथ किया."

"उन्होंने अपनी राजनीति के लिए एक षड्यंत्र के तहत मुझे फंसाया है. मैं चाहता हूं कि इसकी जांच हो और जो भी इसके दोषी हों, उन्हें सख़्त से सख़्त सज़ा हो. मैं हर तरह की जांच में सहयोग देने के लिए तैयार हूं." 
और इस तरह सेताहिर हुसैन कोसेकुलरवाद ले डूबा....
loading...

No comments:

Post a comment