Tuesday, 31 March 2020

अयोध्या में 510 के पार पहुंचा कोरोना संदिग्धों का आंकड़ा, 14 दिन आईसोलेट

अयोध्या में सबसे ज्यादा 510 कोरोना संदिग्धों की संख्या, घर में रहे सुरक्षित रहे
अयोध्या : संधिग्ध कोरोना मरीजों की तादाद जनपद में 500 के पार चली गयी है । दर्शन नगर मंडल चीकित्सालय के आईसोलेशन वार्ड में दो तथा जिला हिकित्सालय में दिल्ली से घर लौटे महिला सहित तीन लोगों को क्वारेंटाइन वार्ड में भारती किया गया । जहां इन्हें 14 दिन की निगरानी में रखा जाएगा ।

एक स्थानीय अखबार में प्रकाशित खबर के अनुसार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में बनाए गए कोरोना कण्ट्रोल रूम के अभिलेखों में लगभग 510 संदिग्धं के नाम पते दर्ज किये गए है । ज्यादातर संदिग्धों को उनके घरों के ही अलग अलग कमरों में रखा गया है । जहां चिकित्सक दल उनकी निगरानी करेगा । सभी संदिग्धों की लार, बलगम और खून का सैंपल लेकर केजीएमयु लैब भेजा गया है. जांच रिपोर्ट आने के बाद यह पुष्टि होगी की, कितने लोग संक्रमित है । इससे पहले भी चीन से लौटे सात लोगों को उनके घरों में ही अलग कमरों में रखकर गठित जांच दल उनकी निगरानी में था । फिलहाल इनमे कोई संक्रमित नहीं पाया गया ।

राजधानी दिल्ली में मजदुरी व् अन्य कार्य के लिए गए लोगों का पलायन बहुत तेजी से अपने गाँव की ओर हो रहा है । जो देश के लिए बहुत बड़ी खतरे की घंटी है । रविवार को गाज़ियाबाद से शासन द्वारा दी गयी बस सुविधा से रौनाही थाना क्षेत्र के ग्राम लाल दुवे का पुरवा निवासी 54 वर्षीय धर्मराज, 42 वर्षीय कृष्ण नारायण, 38 वर्षीय कोयला देवी अपने घर के लिए गाँव पहुंचे तो ग्रामीणों ने यह कहते हुए गाँव में घुसने नहीं दिया की वह सभी को इस जानलेवा कोरोना बिमारी से ग्रासित कर देंगे ।

प्रशासन को जब इसकी सुचना मिली तो, तीनो को लेकर जिला चिकित्सालय से कोरेंटीन वार्ड में भारती करा दिया गया है. यहाँ तीनो को 14 दिन तक चिकित्सक दल की निगरानी में रखा जाएगा ।

वहीँ राजकीय श्रीराम चिकित्सालय अयोध्या में कोरोना वायरस के लक्षण से संबंधित मरीजों के अपडेट व् किये गए प्रबंध का निरिक्षण CMS डॉ. अनिल कुमार व् अन्य चिकित्सकों द्वारा किया गया. आईसोलेशन व् क्वारेंटाइन वार्ड का भी गहन सर्वेक्षण किया गया है ।

No comments:

Post a comment