Thursday, 19 March 2020

लखनऊ : CAA प्रदर्शनकारियों पर पुलिस का दमन, तीन महिलाएं गभीर, दर्जनों एडमिट

लखनऊ : CAA, NRC, NPR विरोध प्रदर्शनों इ प्रदर्शन कर रही महिलाओं पर पहले भी कईहमले हुए है. कभी पुलिस की बर्बरता तो कभी सांप्रदायिक आतंकियों द्वारा गोलियां चलाना. कई बार किसी ना किसी सैश का शिकार हुआ करते है Shaheen Bagh. लेकिन सबसे यादा उत्पीडन झेलने वालों की लिस्ट में लखनऊ स्थित घंटाघर का शाहीन बाग़ है. इससे पहले भी कई बार यहाँ हमले हुए है कराये गए है. इसी shaheen bagh से आ एक और बुरी खबर आ रही है. दर्जनों विडियो सोशल मीडिया पर शेयर किये जा रहे है. इसमें साफ़ दिखाई दे रहा है की पुलिस किस तरह महिलाओं पर अत्याचार कर रही है. प्रेग्नेंट महिला हो या 80 वर्ष की बूढी महिला हो या मासूम बच्चा किसीको भी नहीं बख्शा जा रहा. लोग कह रहे है "अब पानी सर से ऊपर चला गया"

 रिहाई मंच के महासचिव राजिव यादव ने विडियो शेयर करते हुए बताया की, घंटाघर को भारी मात्रा में पुलिस और रैपिड एक्शन फ़ोर्स ने घेरा, लखनऊ घंटाघर पर महिलाओं के प्रदर्शन पर पुलिस ने बोला हमला, मंच पर की तोड़ फोड़,महिलाओं के साथ किया अभद्रता, तीन महिलाओं के बेहोश होने की सूचना। पुलिस घंटाघर धरने को खत्म कराने पर आमादा,प्रदर्शनकारियों पर पुलिसिया दमन जारी।

पुलिस ने महिलाओं के पेट पर लाठी,लात और घूसों से मारा,मौके पर तीन महिलाएं बेहोश और कई महिलाएं अस्पताल में एडमिट, घंटाघर धरने पर बैठी महिला प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने हमला बोला। पुलिस ने हैवानियत की हदें पार की, पुलिस ने धार्मिक ग्रंथ क़ुरआन और जानमाज़ पर मारा लात। बर्बरता कर रहे पुलिस के वर्दी पर नाम प्लेट नहीं, पुलिस ने रुमाल से चेहरे को ढका हुआ था । पुलिस ने विकलांग दंपति को जलील कर,पति को धरने से बाहर निकाला। मंच पर की तोड़ फोड़,महिलाओं के साथ किया अभद्रता,बुजुर्ग महिलाओं तक को पीटा लखनऊ घंटाघर को भारी मात्रा में पुलिस और रैपिड एक्शन फ़ोर्स ने घेरा पुलिस घंटाघर धरने को खत्म कराने पर आमादा,प्रदर्शनकारियों पर पुलिसिया दमन जारी।

विडियो

No comments:

Post a comment