Saturday, 25 April 2020

दुष्कर्म में नाकाम दरिन्दे ने नाबालिग दलित छात्रा की हत्या कर शव कीचड़ में दबाया

दुष्कर्म में नाकाम दरिन्दे ने नाबालिग दलित छात्रा की हत्या कर शव कीचड़ में दबाया
टोंक जिले के बथंली क्षेत्र एक नाबालिक की दुष्कर्म की नीयत से हत्या कर दी। नाबालिग 11वीं छात्रा थी। वह अपने मां- बाप और भाई का खाना लेकर खेत पर जा रही थी। इसी दौरान रास्ते में उसकी हत्या कर शव कीचड़ में फेक दिया।


पुलिस के मुताबिक जिले के ग्राम बंथली राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या- 52 के पास रहने वाले ओमप्रकाश बैरवा की पुत्री नाबालिका विज्ञान संकाय की छात्रा 11वीं कक्षा में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बथंली में पढ़ाई कर रही थी। वह शुक्रवार को सुबह 9 बजे घर से अपने माता-पिता और अपने भाई का खाना लेकर विजयगढ़ खेत पर जा रही थी। उसके माता-पिता और और भाई विजयगढ़ में खेत पर मजदूरी को गए थे। इसी बीच अचानक विजयगढ़ व बंथली के बीच सिया खाल में रपट पर उसके साथ दुष्कर्म की नियतसे एक लेखराज मीणा ने पीछा कर उसकी हत्या कर दी और शव को पानी में फेंक दिया।


उधर खाने का इंतजार कर रहे पिता ने देखा कि बेटी खाना लेकर नहीं पहुंची तो उन्होंने घर से बेटी की जानकारी ली। तब मृतका की बहन सरिता से और उसके भाई से पता चला कि वह तो सुबह 9 बजे खाना बनाकर घर से निकल चुकी है। जब बेटी की तलाश शुरू हुई तो खेत मालिक के लडक़े ने कहा कि तुम्हारी लडक़ी सड्या खाल में पड़ी हुई है और उसका रोटी का टिफिन भी पड़ा हुआ है। मौक पर जाकर देखा तो पानी के पास कीचड़ में उसकी लाश पड़ी थी। सूचना मिलने पर ग्रामीण क्षेत्र से लोग दौड़ एकत्रित हो गए। घटना की तुरंत ग्रामीणों पुलिस को सूचना दी।


सूचना पर देवली पुलिस अधीक्षक रामचंद्र नेहरा, हैड कांस्टेबल सीताराम हैड कांस्टेबल सुरेश बथली, पटवारी भंवरसिंह मय दल के पहुंचे और पुलिस अधीक्षक टोंक आदर्श सिद्धू, पुलिस अधीक्षक गोवर्धन लाल सुकोलिया, मालपुरा दुनी थाना प्रभारी घनश्याम मीणा दल के पहुंच गए और मौके पर पहुंचकर शव के बारे में जानकारी लेते हुए लाश को कब्जे में लिया। नाबालिग के पिता पिताजी ने कहा कि दुष्कर्म के प्रयास के कारण बेटी हत्या हुई। पिता बताया कि मेरी बेटी साइंस की पढ़ाई कर रही थी। वह पढ़ाई में होशियार थी। ओमप्रकाश ने लेखराज मीणा निवासी विजयगढ़ पर हत्या का आरोप लगाया। मेरी बेटी के पीछे वह गुरुवार शाम को भी मेरे घर के बाहर खड़ा था।

नाबालिग के पिता ने बताया कि लेखराज चार दिन  पहले हमारे घर पर कुएं पर नहाने के लिए आया था। उसने कहा कि मेरे को नहाने दो मै नहाने आया हूं। हमने नहाने के लिए मना नहीं किया, लेकिन आज इस लेखराज ने हमारी पुत्री की दुष्कर्म  की नीयत जान ले ली। पुलिस ने मामला दर्ज कर हत्यारे की तलाश शुरू की है। 


No comments:

Post a comment