Saturday, 4 April 2020

सिंधुदुर्ग : 'शिक्षक भारती' द्वारा विभिन्न स्थानों पर मजदूरों को आवश्यक सामग्रियों का वितरण

सिंधुदुर्ग : शिक्षक भारती द्वारा विभिन्न स्थानों पर मजदूरों को आवश्यक सामग्रियों का वितरण
सिंधुदुर्ग : शिक्षक भारती द्वारा विभिन्न स्थानों पर मजदूरों को आवश्यक सामग्रियों का वितरण
मुंबई :कोरोना वायरस नाम की भयावह महामारी से बचाव के लिए 21 दिनों तक लॉकडाउन के दौरान विभिन्न राज्यों में मजदूरी करने गए मजदूर अपने अपने गाँव की ओर पैदल जाने को मजबूर है. सैकड़ों किलोमीटर पैदल चल रहे मजदूरों को जगह-जगह विभिन्न संगठनो द्वारा जीवनावश्यक वास्तु, खाद्यान्न का वितरण किया जा रहा है. इस सराहनीय काम में शिक्षक भारती द्वारा सिंधुदुर्ग जिलाभर में अन्न-धन्य वितरण अभियान चलाया जा रहा है. जिसके तहत संगीता आश्रम पनादुर में 31 मार्च को महाराष्ट्र राज्य प्राथमिक शिक्षक भारती सिंधुदुर्ग द्वारा लगभग 20,000 रुपये का साहित्य वितरित किया गया । इस मौके पर संतोष पाटाडे, मालवन तालुका के अध्यक्ष श्री संतोष कोचरेकर और मालवन कोषाध्यक्ष विनेश जाधव उपस्थित थे।

सोनाली ताल वैभववाड़ी में, कासवली तालुका के अध्यक्ष श्री दशरथ शिंगारे और सचिव श्री राम विभूते द्वारा विभिन्न राज्यों से पैदल अपने गाँव जा रहे मजदूरों को 5,000 रुपये की आवश्यक वस्तुएं वितरित की गईं। इस पहल के दूसरे चरण में, 2 अप्रैल, 2020 को, कुमारे तालुका मालवन में, कोरोना जैसी महामारी को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के कारण कई लोगों को कड़ी भूख का सामना करना पडरहा है. कर्नाटक में भूख से पीड़ित लगभग 120 लोगों के 30 परिवारों को 15,000 रुपयों की आवश्यक सामग्री वितरित करके सामाजिक प्रतिबद्धता दिखाई । इस अवसर पर जिला अध्यक्ष श्री. संतोष पातड़े, मालवन उपाध्यक्ष कृष्णा कालकुंड्रीकर सागर कुराडे और मालवन तालुका आयोजक तुकाराम खिलारे और संजय जाधव उपस्थित थे।

सुकळवाड में बंगाल निवासी मजदूरों को लगभग दो हार रुपये की जीवनावश्यक सामुग्री जिलाध्यक्ष संतोष पाताडे द्वारा आवंटित किया गया । मातोंड तालुका वेंगुरला में 03/04/2020 के दिन, कोरोना के कारण भूख से पीड़ित कर्नाटक के लगभग 48 लोगों के 12 परिवारों को 5000 रुपये के मूल्य का आवश्यक वस्तुएं, खाद्यान्न वितरण करके सामाजिक प्रतिबद्धता दिखाई, इस अवसर पर जिला कार्यालय सचिव श्री अमोल अडके, शिक्षक नेता श्री सुभाष सेबल, श्री माधव ठाकरे, श्री कृष्ण खांडेकर उपस्थित थे।

कोरोना का प्रकोप समाप्ति तक शिक्षक भारती द्वारा इसी तरह मदद्कार्य किया जाएगा, शिक्षक भारती पदाधिकारियों ने सिंधुदुर्ग जिले में समय-समय पर जरूरतमंदों की मदद करने का लक्ष्य रखा है। जिसकी काफी सराहना की जा रही है.

No comments:

Post a comment