Tuesday, 19 May 2020

Zee News बना कोरोना का केंद्र, छिपाए गए थे 29 कोरोना पॉजिटिव?

नई दिल्ली : सोशल मीडिया पर एक खबर काफी वायरल हो रही है और वह है जी न्यूज़ में मिले 29 कोरोना पोजिटिव । यह खबर इतनी क्यों वायरल ह्पो रही है ? इस सवाल का जवाब है ये वही जी न्यूज़ है जिसने देशभर में तबलीगी जमात को कोरोना फैलाने वाला बताने के लिए भयावह हेडलाइंस के साथ खबरें चलाई थी । आज लोग सोशल मीडिया पर उसी हैडलाइन का इस्तेमाल जी न्यूज़ के लिए हो रहा है । कोरोना बम, कोरोना जिहाद, देश के साथ विश्वासघात ऐसे शब्दों का इस्तेमाल क्या जा रहा है । सुधीर चौधरी ने कहा लोग खुश हो रहे है । लेकिन वो यह नहीं कह पाए की लोग वही कर रहे है जो पिछले महीने सुधीर चौधरी और उनके टीम ने किया । जब जी न्यूज़ तबलीग जमात पर झूठे बड़े बड़े इल्जाम लगा रहा था तब क्या वह खुश था ? जी हाँ सुधीर चौधरी के बातों से ऐसे ही लगता है । क्यूंकि उनके द्वारा बनाई गयी हेडलाइंस का इस्तेमाल करने वालों को सुधीर ने टुकड़े युकड़े गैंग खुश हो रहा है ऐसी कहा.


एक नजर लोग क्या कह रहे है
Zee news बना कोरोना का केंद्र #DNA_ज़ी_न्यूज़_ने_29_कोरोना_पॉज़िटिव मरीजों को "छुपाकर" क्यों रखा हुआ था? उन 29 कोरोना संक्रमित लोगों के ज़रिए ज़ी न्यूज़ देश मे क्या करना चाहता था? किस नियत से छिपाए गए थे कोरोना पॉजिटिव? ये जांच का विषय है । एक ही दिन में 29 कोरोना पॉज़िटिव? देश के लिए बड़ा खतरा कहा कहा परोसा वायरस हर वर्कर की ट्रेवल्स हिस्ट्री की जांच हो ।


देश भर में फैले है ज़ी न्यूज़ के वर्कर । सोशल डिस्टेंसन की उढ़ाई धज्जियां । निजामुद्दीन मरकज से तो कोई कनेक्शन नही? ये इत्तेफ़ाक़ नही षणयंत्र हो सकता है, कोई बड़ी साजिश तो नही रच रहा ज़ी न्यूज़? ज़ी न्यूज़ के तार कहा कहा फैले है । ये जांच का विषय है इस कि निपक्ष जांच होनी चाहिए । जब तक जाँच पूरी ना होजाये तब तक ज़ी न्यूज़ को बेन कर देना चाहिये #सुप्रीम_कोर्ट_को_संज्ञान_लेना_चाहिये
Zee News` spirit high, fearless journalism to continue even as 29 employees test coronavirus positive
इस तरह के सवाल सोशल मीडिया पर जी न्यूज़ के खिलाफ उठाये जा रहे है । 

No comments:

Post a comment