Monday, 22 June 2020

सरकारी शेल्टर होम में 7 नाबालिग लड़कियां प्रेग्‍नेंट, 57 को कोरोना -मचा हड़कंप

सरकारी शेल्टर होम में 7 नाबालिग लड़कियां प्रेग्‍नेंट, 57 को कोरोना -मचा हड़कंप
उत्तर प्रदेश में कानपुर के महिला शेल्टर होम में 57 लड़कियां कोरोना पॉजिटिव पाई गईं हैं। लड़कियों को जब इलाज के लिए रामा मेडिकल काॉलेज हॉस्पिटल भेजा गया तो पता लगा कि 7 लड़कियां प्रेग्नेन्ट है। कानपुर के डीएम डॉ ब्रह्म देव राम तिवारी ने बताया कि ये लड़कियां शेल्‍टर होम में लाने से पहले ही प्रग्‍नेंट थीं। पांच पॉजिटिव लड़कियां आगरा, एटा, कन्नौज, फिरोजाबाद और कानपुर के बाल कल्याण समिति से आईं थीं, जबकि 2 यही रह रही थीं। फिलहाल प्रशासन ने इस शेल्टर होम को सील कर दिया है।


कोरोना संक्रमण के 57 मामले सामने आने के बाद जिले में हड़कंप मच गया है। एक सप्ताह पहले ही  शेल्टर होम की एक लड़की कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी। उसके बाद 18 जून को एक साथ 33 लड़कियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।


19 जून को 16 और लड़कियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। 20 जून की रात जांच रिपोर्ट में 8 और कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए।  बता दें कि शेल्टर होम में 12 वर्ष से लेकर 34 साल तक की महिलाएं रहती हैं।


कोरोना संक्रमित गर्भवती लड़कियों को भी कोरोना संक्रमित होने के बाद डफरिन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। लड़कियों की उम्र महज 17 साल है। वहीं 7 लड़कियों के गर्भवती होने की खबर के बाद हड़कंप मच गया है। इस मामले में प्रियंका गांधी ने बिहार के मुजफ्फरपुर के बालिका गृह का जिक्र करते हुए योगी सरकार पर निशाना साधा है।

No comments:

Post a comment