Sunday, 7 June 2020

दिलीप मंडल जैसे घनघोर नीले की ट्रोलिंग के बाद सोनू पूरे भगवा जगत का हीरो बने - विकास राठौर

दिलीप मंडल जैसे घनघोर नीले की ट्रोलिंग के बाद सोनू पूरे भगवा जगत का हीरो बने - विकास राठौर
दिलीप साहब ने सोनू सूद को और ज्यादा फेमस(एकदम रोबिन हुड टाइप का)करने का ठेका लिया है, वो बिना पैसे के किसी को अपनी वॉल पर जगह नहीं देते हैं। दिलीप मंडल जैसे घनघोर नीले की ट्रोलिंग के बाद सोनू पूरे भगवा जगत का हीरो बनेगा ये तय है।


जब तक वो सोनू सूद के बारे में खामोश थे,उसको कम फ़ायदा हो रहा था, उनकी ट्रोलिंग के बाद सोनू सूद के समर्थन में लोग पोस्ट लिख रहे हैं, इनमें वो लोग भी हैं जिनका भाजपा से कोई सम्बन्ध नहीं है। दिलीप सर को भी सोनू सूद की पीआर एजेंसी ने ही हायर किया है।
- विकास राठौर

सोनू सूद पर संजय राउत ने साधा निशाना, बोले- अच्छे एक्टर लेकिन उनके पीछे हो सकता है कोई पॉलिटिकल डायरेक्टर 

 
कोरोना लॉकडाउन के दौरान मुसीबत में फंसे हजारों प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए सुर्खियों में आए फिल्म एक्टर सोनू सूद की जहां चारों तरफ वाहवाही हो रही है तो वहीं दूसरी तरफ शिवसेना नेता संजय राउत ने उन पर निशाना साधा है। संजय राउत ने कहा कि सोनू सूद एक अच्छा एक्टर है। उन्होंने कहा कि फिल्मों के लिए अलग-अलग डायरेक्टर होते हैं, सोनू सूद ने जो काम किया है वह अच्छा है लेकिन ऐसा संभव है कि इसके पीचे एक राजनीतिक डायरेक्टर हो सकता है।

संजय राउत ने सोनू सूद पर सवाल उठाते हुए हैं और कहा कि बहुत चालाकी से वो 'महात्मा' सूद बनने की ओर हैं। रविवार को शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' में संजय राउत ने पूछा कि 'आखिर जब लॉकडाउन में लोगों को कहीं आने-जाने की अनुमति नहीं है तो बिना किसी राजनीतिक दल के मदद के उन्हें बसें कैसे मिल जा रही हैं?'

संजय राउत ने शिवसना के मुखपत्र 'सामना' में एक्टर सोनू सूद की तरफ से किए जा रहे मदद कार्यों पर सवाल खड़ा किया गया है।उन्होंने इसके लिए बीजेपी पर निशाना साधा है। वहीं, बीजेपी ने संजय राउत के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया। संजय राऊत ने रोखटोक कॉलम में लिखा है कि लॉकडाउन के दौरान अचानक सोनू सूद नाम का एक महात्मा तैयार हो गया है। इतने झटके और चतुराई के साथ किसी को महात्मा बनाया जा सकता है? राउत ने प्रवासी मजदूरों को बस में भेजने के लिए आये पैसों पर सवाल उठाते हुए सोनू सूद को बीजेपी का मुखौटा बताने की कोशिश की है।


मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने फिल्म अभिनेता सोनू सूद के उत्तराखंड प्रवासियों की मदद करने पर आभार जताया और उन्हें उत्तराखंड आने का न्योता दिया। सूद ने शुक्रवार को मुंबई में फंसे उत्तराखंड के प्रवासियों को फ्लाइट से भिजवाने में मदद की थी। उनके इस प्रयास से प्रवासी उनके कायल हो गए हैं। शनिवार को सीएम त्रिवेंद्र ने फोन पर अभिनेता सूद से बात की और उनके सहयोग के लिए आभार जताया। सीएम ने कहा कि सूद  और उनके जैसे कई धार्मिक, सामाजिक संगठनों ने विभिन्न प्रदेशों के प्रवासियों को उनके राज्यों में भेजने में योगदान दिया।


यह बेहद ही सराहनीय है। उन्होंने कहा कि सरकार और समाज का सहयोग ही इस वैश्विक महामारी को हराने में बेहद मदद साबित होगा। इस वैश्विक संकट के बाद उन्होंने सूद को उत्तराखंड आने का निमंत्रण दिया। त्रिवेंद्र ने कहा कि सूद ने उत्तराखंड में फिल्म बनाने बनाने को लेकर रूचि दिखाई। जब भी वे उत्तराखंड आएंगे, सरकार उन्हें हर संभव मदद करेगी। उधर, अभिनेता सूद ने सोशल मीडिया पर लिखा कि सीएम त्रिवेंद्र रावत से बात कर अच्छा लगा। जिस सादगी और गर्मजोशी से मेरे प्रयासों की सराहना की, उससे मेरे को और बल मिला है। उन्होंने भरोसा दिया कि जल्द ही वे बद्री-केदार के दर्शन के लिए उत्तराखंड आएंगे और उनसे भी मुलाकात करेंगे।


गौरतलब है कि सोनू सूद अब तक हजारों ऐसे प्रवासी मजदूरों को जो कोरोना लॉकडाउन के चलते महाराष्ट्र समेत देश के अन्य भागों में फंसे हुए थे, और जिन्होंने सोनू सूद से ट्विटर के जरिए मदद मांगी, सोनू सूद ने उनके लिए बस का इंतजाम कराया। उनके इस काम के लिए खूब तारीफ हो रही है।

 

No comments:

Post a comment