Type Here to Get Search Results !

Terra

Click banner

नाबालिग के साथ अबतक का सबसे बड़ा गैंग रेप कांड, दरिंदगी की हद पार, 14 रेपिस्ट गिरफ्तार

नाबालिग के साथ अबतक का सबसे बड़ा गैंग रेप कांड, सुनकर होश उड़ जाएंगे, 14 रेपिस्ट गिरफ्तार

नाबालिग के साथ अबतक का सबसे बड़ा गैंग रेप कांड, सुनकर होश उड़ जाएंगे, 14 रेपिस्ट गिरफ्तार

महाराष्ट्र के पुणे में 14 साल की लडकी के साथ हुए सामूहिक बलात्कार कांड ने सबको झकझोर दिया है। इस मामले में पुलिस ने अब तक 13 लोगों की गिरफ्तार किया है। इन सबने लड़की के साथ 5 विभिन्न जगहों पर 48 घंटे तक कई दफा रेप किया। आरोपितों में लड़की का दोस्त, क्लास 4 के 2 रेलवे कर्मचारी और 11 ऑटोरिक्शा वाले शामिल हैं।

मजलूम लडक़ी के नातेदारों का कहना है कि उनकी बच्ची अफसर बनने के ख्वाब देखती थी मगर अब सब खत्म होता नजर आ रहा है। वह बस कोने में बैठ कर रोती रहती है। पुरुषों की आवज सुनते ही उसे डर लगता है। हालत ऐसी है कि पुलिस को बयान देने में भी घबरा रही है।

पुलिस के मुताबिक इस मामले को 14 लोगों के विरुद्ध IPC धारा 34, 363, 376, 377 के अलावा पॉक्सो की धारा 4(2),5 (g), 12, 8,6 के तहत दर्ज किया है। जिसमें अब तक मशक कन्याल (27), अकबर शेख (32), अजरुद्दीन अंसारी (27), नोएल खान (24), आसिफ पठान (36), प्रशांत गायकवाड़ (29), रफीक शेख (32), राजकुमार प्रसाद (29), गोलू (19) और 4 अन्य की गिरफ्तारी हुई है।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार डीसीपी नम्रता पाटिल (DCP Namrata Patil) ने बताया, 31 अगस्त को पीडित नाबालिग लड़की अपने 19 साल के दोस्त से मिलने चुपचाप निकली। वो ऑटो रिक्शा करके पुणे स्टेशन पहुंची लेकिन जब दोस्त नहीं आया तो वह वहीं रोने लगी। इसके बाद एक ऑटो ड्राइवर ने उसे कहा कि वो स्टेशन से बाहर चले उसका दोस्त बुला रहा है। बाहर आने के बाद लड़की को नशीला पानी पिलाया गया जिससे वह बेहोश हो गयी ।

बेहोशी की हालात में ऑटो ड्राइवर ने अंजान जगह पर लेजाकर उसके साथ बलात्कार किया । और फिर ठिकाना बदल कर उसके बाकी साथी भी बारी-बारी से उसके साथ बलात्कार करते रहे। लड़की को बिन कपड़े के एक कमरे में बंद किया गया था। कुछ-कुछ घंटे में ये आरोपित उसके पास जाते और उसका रेप करते। वो रो रोकर खाने को खाना और पहनने को कपड़े माँगती लेकिन कोई उसकी बात नहीं सुनता। इसके बजाय वह उसे धमकाते कि बाहर जाकर यदि किसी को कुछ कहा तो उसे जान से मार देंगे। जब लड़की की तबीयत बिगड़ी तो उसे एक आरोपित मुंबई के दादर स्टेशन छोड़ आया जहां रेलकर्मी ने भी उसके साथ दुष्कर्म किया और बाद में उसके दोस्त को उसे सौंप दिया।

7 सितंबर 2021 को जब दोनों चंडीगढ़ पहुंचे तो लड़की की गंभीर हालत देख GRP को शक हुआ और पूछताछ के बाद उसे प्रोजेक्ट डारेक्टर चाइल्ड लाईन को सौंप दिया गया। यहां लड़की ने आपबीती सुनाते हुए सारा खुलासा किया। क्रॉस चेक करने पर पता चला लड़की की गुमशुदगी की रिपोर्ट वाकई दर्ज है। फिर पुलिस ने रेलवे स्टेशन के बाहर 100 से ज्यादा सीसीटीवी फुटेज को खंगाला और एक ऑटोरिक्शा वाले को पकड़ कर बाकी सब आरोपितों की भी जानकारी ले ली। गुनाह कबूलने के बाद इन्हें पुलिस कस्टडी में भेजा गया है।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

Hollywood Movies