Monday, 13 June 2016

नांदेडः एम्बुलेंस 108, 102 और सरकारी अस्पताल का चमत्कार एक हफ्ते में एक महिला की तीन बार प्रसूति



नांदेडः एम्बुलेंस 108, 102 और सरकारी अस्पताल का चमत्कार
एक हफ्ते में एक महिला की तीन बार प्रसूति
नांदेड, भोकर के सरकारी अस्पताल में एक बहुत बड़ा चमत्कार हुआ है. जिस चमत्कार ने नासा को भी पीछे छोड़ दिया. दुनिया के हर वैज्ञानिक को आश्चर्य में डाल दिया. और हम भी चारी में पड़े हुए है. की, एक ही महिला की प्रेअसुती एक ही हफ्ते में तीन बार तीन जगह कैसे हो सकती है ? जी हाँ आपने सही पढ़ा. ऐसा ही चमत्कार भोकर के सरकारी अस्पताल में हुआ है. नाम उजागर ना करने के शर्त पर एक व्यक्ति ने यह जानकारी दि है की, एक महिला की प्रसूति भोकर के सरकारी अस्पताल में होती है. और उसी महिला को प्रसूति के दो चार दिन बाद 102 एम्बुलेंस के कर्मचारी कहते है की उक्त महिला की प्रसूति नांदेड के अस्पताल में हुई और हमने ही उसको 102 में रेफर किया था. फिर उसी हफ्ते में एम्बुलेंस 108 वालो का दावा है की, हमने उस महिला को नांदेड के अस्पताल में रेफर किया और उक्त महिला की प्रसूति नांदेड में हुई. जब उक्त महिला से हमाने संपर्क कर मामले की जानकारी ली तो प्रसुत महिला ने बताया की, ‘ मेरी प्रसूति भोकर के अस्पताल में ही हुई, और मुझे किसी भी एम्बुलेंस से कहीं भी रेफर नहीं किया गया’ इस बात की जानकारी प्राप्त करने के लिए जिला 108 के अधिकारी से संपर्क करने पर उन्होंने कहा की, ‘ हम जिला शल्य चिकित्सक के अंडर काम करते है यह जानकारी आप सुचना के अधिकार के तहत ले सकते हो’ लेकिन सुचना के अधिकार में जानकारी देने से सम्बंधित दोनों दिपार्मेंट के अधिकारियों चार महीने का वक्त जाया करने के बाद इनकार कर दिया. यह चार महीने शायद यही पता लगाया गया हो की भ्रष्टाचार किसने किया, और भ्रष्टाचार करने वालो को बचाने के लिए जिला अस्पताल के वरिष्ठ अधिकारी हर तरह की कोशिस में जुटे है ऐसा प्रतीत होता है.

यह मामला एक ही महिला का नहीं है. कई ऐसी महिलाए है जिनसे संपर्क करने पर अस्पताल के चमत्कारों का पता चलता है. और कई महिलाओं की प्रसूति 102, 108 और भोकर अस्पताल में तीन तेन बार की जा चुकी है. वह भी एक हफ्ते या दस दिन में, इस मामले में ऐसे ऐसे चमत्कार सामने आये है जो नासा को तो क्या कुद्रक को भी चैलेंज करते है. और भी कई चमत्कार सामने आने की संभावना नकारी नहीं जा सकती. भोकर तालुका एक वैज्ञानिक तालुका बन चुका है इसी तालुका में कई बोगस डॉक्टर्स भी है जो आम लोगो की जिंदगियो से खिलवाड़ करते है. इनके विरोध में कई शिकायते करने के बावजूद भी कोई कारवाए नहीं की जाती, इसका साफ मतलब है की, बोगस डॉक्टर्स अधिकारियों के रहम ओ करम पर ही आम लोगो की जिंदगियो से खिलवाड़ कर रहे है. इन घोटालो को रोकने और आम लोगो की जिंदगियां बचाने के लिए राज्य के अधिकारियों से नागरिको द्वारा गुहार लगाई जा रही है.

No comments:

Post a comment