Saturday, 25 June 2016

मोदी सरकार की उपलब्धिया गिनाने पर हुई पत्थरो की बौछार

घटना पश्‍च‍िमी ओडिशा के कस्‍बे बारगढ़ में हुई। मंत्री बीजेपी के विकास उत्‍सव कार्यक्रम में शामिल होने जा 
उड़ीसा में सत्‍ताधारी बीजू जनता दल और विपक्षी पार्टी बीजेपी के बीच की टकराहट और ज्‍यादा बढ़ गई है। बीजेडी एमएलए देवेश आचार्य और कई पार्टी वर्करों ने केंद्रीय कपड़ा मंत्री और सीनियर बीजेपी नेता संतोष गंगवार की गाड़ी पर पत्‍थर फेंके। घटना पश्‍च‍िमी ओडिशा के कस्‍बे बारगढ़ में हुई। मंत्री बीजेपी के विकास उत्‍सव कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे। हालांकि, इस हमले में उन्‍हें किसी तरह की चोट नहीं लगी।

गंगवार, खाद्य प्रसंस्‍करण मंत्रालय की राज्‍यमंत्री साध्‍वी निरंजन ज्‍योति और झारखंड के पूर्व सीएम अर्जुन मुंडा का काफिला जैसे ही बारगढ़ के आयोजन स्‍थल पहुंचा, स्‍थानीय एमएलए आचार्य की अगुआई में सैकड़ों बीजेडी कार्यकर्ताओं ने उन्‍हें काले झंडे दिखाए और ‘वापस जाओ’ के नारे लगाए। आचार्य राज्‍यसभा सांसद और पूर्व मंत्री प्रसन्‍ना आचार्य के बेटे हैं। पुलिस ने जब थोड़ी सी शिथिलता दिखाई तो कुछ बीजेडी कार्यकर्ताओं ने गंगवार की कार पर पथराव शुरू कर दिया। इसमें उनकी कार की खिड़की को नुकसान पहुंचा। हालांकि, इससे पहले कि और ज्‍यादा नुकसान पहुंचता, पुलिसवालों ने मंत्री की गाड़ी को सुरक्षित बाहर निकलवाया।

शुक्रवार सुबह ही बीजेडी कार्यकर्ताओं ने शहर में बाइक रैली निकाली। यह रैली बीजेपी के विकास उत्‍सव के विरोध में निकाली गई थी। बीजेडी कार्यकर्ताओं ने एक हैंडलूम साड़ी शोरूम में भी तोड़फोड़ की। यहां गंगवार कुछ जुलाहों से मिलने वाले थे। विकास उत्‍सव नरेंद्र मोदी सरकार के दो साल पूरे होने की खुशी में मनाया जा रहा है। घटना के बाद गंगवार ने कहा, ‘केंद्रीय मंत्री की सुरक्षा राज्‍य सरकार की जिम्‍मेदारी होती है। अगर राज्‍य सरकार एक केंद्रीय मंत्री को नहीं बचा सकती तो वो आम जनता को क्‍या बचाएगी।’

पुलिस ने इस मामले में पांच बीजेडी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा, पार्टी विधायक आचार्य समेत 70 अन्‍य को हिरासत में लिया। बाद में एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बीजेपी ने आरोप लगाया कि पत्‍थरबाजी सीएम नवीन पटनायक के इशारों पर की गई। (जनसत्ता से)

No comments:

Post a comment