Sunday, 3 July 2016

60 लाख लोगो के क़त्ल का जिम्मेदार हिटलर, बंगलादेश के हमले का जिम्मेदार इस्लाम ?

जब कोई मुसलमान बुरा काम करता है तो लोग इस्लाम को बदनाम करने में कोई कसार नहीं छोड़ते. और जब कोई किसी और धर्म का बुरा काम करता है तो उसको उसके नाम से बुरा काम करने वाले को ही बुरा कहा जाता है. यह बात दुनिया जानती है और वह लोग भी जो इस्लाम को बदनाम करने में कोई कसार नहीं छोड़ते....
हाल ही में एक दो मुस्लिम बच्चो की तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है. जिन बच्चो ने अपनी जान पर खेलकर 6 गैरमुस्लिमो की जान बचाई. लेकिन इन मासूम बच्चो की सराहना करने के बजाये कुछ मनुवादी इस पोस्ट पर ऐसी कमेंट कर रहे है जो अच्छे लोगो के दिलो में नफरत पैदा करती है. और इन लोगो में उन लोगो की ज्यादा दादाद है हिटलर ने जिन लोगो का नरसंहार किया (हिटलर के नरसंहार का मैं विओधि हूँ) और वही लोगो के कुछ वंशज भारत में भी पाए जाते है.... एक खत्री नामक ने उस पर कमेंट लिखी "Unka kya jinko kuran ki aavte naa aane par galla kaat diya ??"


यह एक सवाल है जो बंगलादेश में हुए इंसानियत को शर्मसार करने की वारदात को जिन आतंकियों ने अंजाम दिया. लेकिन उपरोक्त लोग इसको इस्लाम से जोड़ रहे है.


इन लोगो ने मेरे इन सवालों का जवाब देना चाहिए.....

उनका क्या जिन्होंने 60 लाख यहूदियों का क़त्ल किया ?
उनका क्या जिन्होंने 3 बार पृथ्वी को निक्षत्रिय किया ?
उनका क्या जिन्होंने वर्णव्यवस्था निर्माण कर 5 हजार साल तक इंसानियत को शर्मसार किया ?
उनका क्या जिन्होंने असमानता निर्माण की ?
उनका क्या जिन्होंने इंसानों को पशुओ से भी बदतर जिंदगी जीने को मजबूर किया ?
उनका क्या जिन्होंने संत तुकाराम महाराज का क़त्ल किया ?
उनका क्या जिन्होंने छत्रपति शिवाजी महाराज पर तलवार से वार किया ?
उनका क्या जिन्होंने छत्रपति शिवाजी महाराज को राजा बनने से रोका ?
उनका क्या जिन्होंने राजर्षि शाहू महाराज को वेदोक्त मन्त्र नहीं पढने दिया ?
उनका क्या जिन्होंने कहा ढोल, पशु, शुद्र और नारी सभी ताडन के अधिकारी ?
उनका क्या जिन्होंने 5 हजार वर्षो तक 85 प्रतिशत भारतीयों को शिक्षा से वंचित रखा ?
उनका क्या जिन्होंने सटी प्रथा निर्माण कर लाखो महिलाओं का क़त्ल किया?
उनका क्या जिन्होंने सीरिया में लाखो लोगो का क़त्ल किया ?
उनका क्या जो गुजरात में नाम पूछकर महिलाओं के कोक से बच्चो को निकालकर काट डाला ?
उनका क्या जिन्होंने म्यानमार में लाखो मुसलमानों का क़त्ल किया ?
उनका क्या जिन्होंने खुदको श्रेष्ठ बनाने के लिए 85 प्रतिशत इंसानों को नीच बनाकर 5 हजार सालो तकत्याचार किया ?
उनका क्या जिन्होंने गैरबराबरी की व्यवस्था निर्माण की ?
उनका क्या जिन्होंने गांधी का क़त्ल किया ?
उनका क्या जिन्होंने इंदिरा, राजिव, संजीव का क़त्ल किया ?


उपरोक्त सवाल सभी 5 हजार वर्षो तक किये अत्याचार से सम्बंधित है. जिन लोगो ने उपरोक्त अत्याचार किये वही लोग या फिर इनके समर्थक आज सवाल पूछते है. उनका क्या जिन्होंने कुरआन की आयात ना पढने पर बेगुनाहों का क़त्ल किया ? ऐसे कातिलो का तो कोई भी इंसान समर्थन नहीं कर सकता. मुसलमान तो कतई नहीं. लेकिन उन आतंकवादियों को सीधे इस्लाम से जोड़कर सारे मुसलमानों को बदनाम किया जा रहा है. लेकिन उपरोक्त सवाल कल इए किसीने भी किसी भी धर्म को जिम्मेदार नहीं माना....... और ना ही हम मानेंगे.....

अगर कोई मुस्लिम ने गलत काम किया उस वक्त इस्लाम को बदनाम करने वाले लोग उस वक्त अपने मुह को ताला लगाए बैठ जाते है जब बर्मा में लाखो मुस्लिमो का क़त्ल और हजारो को बेघर किया जाता है. जब सीरिया में लाखो लोगो का क़त्ल किया जाता है तब भी इनके मुह से ताले नहीं खुलते..... जब कोई 60 लाख इंसानों का क़त्ल करता है तो कहते है हिटलर ने किया ...... यह सिर्फ इसलिए के इनको सबसे ज्यादा तेजी से फ़ैलाने वाला इस्लाम खटकता है........! इनको तो बस इस्लाम को बदनाम करना है दुसरा कोई मकसद ही नहीं है इनके पास.... ! 


कोई भी आतंकवादी इंसानियत को शर्मसार करनेवाली वारदात को अंजाम देता है तो उसका समर्थन करने वाला और उपरोक्त सवालों का समर्थन करने वाला मेरे हिसाब से इंसान ही नहीं है. और ऐसे आतंकवादियों को जीने का कोई अधिकार नहीं है.....
-अहेमद कुरेशी

No comments:

Post a comment