Sunday, 10 July 2016

दारुल उलूम देओबंद डा. नाईक के समर्थन में....! इत्तेहाद की शुरुआत

भरत में माहौल को खराब होते देखकर लाखो मुसलमान इत्तेहाद के लिए दुआ कर रहे है. मसलक को लेकर आपस में इख्तेलाफ होने की वजह से इत्तेहाद में कई बाधाये आने लगी थी. लेकिन अब इक्तेलाफात को बाजू में रखकर इस्लाम के नाम पर एक होना काफी ज्यादा जरुरी हो गया है. इसी बात को ध्यान में रखते हुए विश्व का सबसे बडा दारुल उलूम देवबंद डॉक्टर जाकिर नाईक के खुलकर समर्थन उतरा.
अमर उजाला में छपी खबर के अनुसार जाकिर नायक को लेकर इस समय देशभर के मुसलमानों में असमंजस की स्थिति है कुछ लोग जहाँ जाकिर का विरोध कर रहे है वहीँ एक तबका उनके समर्थन में उतर आया है.


दारुल उलूम खुले तौर पर इस्लाम प्रचारक जाकिर नाइक के समर्थन में उतर आया है। दारुल उलूम के नायब मोहतमिम मौलाना अब्दुल खालिक मद्रासी ने कहा पूर्व में दिए गए फतवे को हथियार न बनाया जाय। उनका कहना है की नाइक के साथ हमारे मसलकी इख्तिलाफ कल भी थे और आज भी हैं।



लेकिन वे पूरी दुनिया में इस्लामिक स्कालर के तौर पर पहचाने जाते हैं। उनके खिलाफ सरकार और मीडिया जिस तरह हंगामा बरपा रहा है, हम उसकी मुखालफत करते हैं। उन्होंने कहा देश के मुसलमानों को न्याय पालिका पर पूरा भरोसा है। इसलिए जाकिर के बारे में कोई राय कायम करने से पहले निष्पक्ष जाच होनी चाहिए.

No comments:

Post a comment