Saturday, 1 February 2020

बड़ा खुलासा : दो कौड़ी के पनेड़ी के पास पिस्तौल खरीदने के पैसे आये कहाँ से?

2 दिन पहले जामिया इलाके में गोपाल शर्मा नाम के शख्स द्वारा जामिया यूनिवर्सिटी के छात्रों द्वारा निकाले जाने वाले वि'रोध प्रदर्श'न के दौरान फायरिं'ग का मामला सामने आया था। अब को लेकर कई चीजें सामने आ रही है। दर असल कल कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने मीडिया से बातचीत के दौरान ये सवाल उठाया था कि उस युवक को ब'न्दूक खरीदने के लिए पैसे किसने दिए?

अब खबर सामने आई है कि गोपाल शर्मा के पिता ने इस मामले में एक बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने कहा है कि उन्हें इस बात की बिलकुल भी जानकारी नहीं थी कि उनका बेटा क्या करने वाला है। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुता बिक, ह'मलावर गोपाल के पिता शादी में जाने के लिए अपने बेटे का इंतज़ार कर रहे थे। उन्होंने अपने 17 वर्षीय युवक को जो पैसे शादी में कपड़े ख़रीदने के दिए थे। उसी से उसने पि'स्टल ख़रीद ली थी। बताया जा रहा है कि गोपाल को उसके माता-पिता ने रिश्तेदार की शादी में जाने के लिए कपड़े खरीदने के लिए बोला था और इसके लिए उसे 10 हजार रूपये दिए थे लेकिन उसने इन पैसों का गलत इस्तेमाल करते हुए इससे बंदूक खरीदी और फिर जामिया इलाके में जाकर छात्रों पर गोलाबारी की। 

इस घटना में जामिया यूनिवर्सिटी के एक छात्र को गोली भी लगी है। आपको बता दें कि, गोपाल को जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड के सामने भी पेश किया गया है। जहां से उसे 14 दिन की रिमांड पर भेजा जाएगा। जांच अधिकारी के मुताबिक़, क़रीब दो साल पहले यह युवक ऑनलाइन कुछ ऐसे लोगों के संपर्क में आया था, जिन्होंने उसे ये यक़ीन दिलाया कि उसका धर्म ख़त'रे में है। इस मामले में उन्होंने कहा कि वो बहुत क़रीब से उन लोगों की सोशल पोस्ट पर नज़र रखता था, और वो वॉट्सऐप ग्रुप्स पर भी बहुत सक्रिय था। इसके साथ ही वो शाहीन बाग़ और जामिया में ना'गरिकता संशोधन क़ानून को लेकर हो रहे विरोध से भी ख़ासा नाराज़ था। इसकी वजह से ही उसने प्र'दर्शनकारियों को सबक सिखाने के मकसद से इस हरकत को अंजाम दिया।    

No comments:

Post a comment